अब 10 सितंबर को फतेहाबाद में मनेगा मुक्ति दिवस सम्मेलन
: विमुक्त, घुमन्तु, अर्धघुमंतु जातियों के प्रांतीय सम्मेलन में जोश के साथ पहुंचेंगे लोग
चंडीगढ। विमुक्त, घुमन्तु, अर्ध घुमन्तु एवं टपरीवास जाति मामले हरियाणा की सलाहकार समिति के चेयरमैन राजीव जैन ने कहा है कि फतेहाबाद में विमुक्ति दिवस सम्मेलन का आयोजन अब 3 सितम्बर की जगह 10 सितम्बर को किया जाएगा, जिसमें मुख्यमंत्री मनोहर लाल एवं मन्त्रिमण्डल सहयोगी पहुंचेंगे। उन्होंने सम्मेलन को कामयाब बनाने के लिए समाज के लोगों के साथ आगामी रणनीति तैयार की।
आज यहां जारी बयान में समिति चेयरमैन राजीव जैन ने कहा कि फतेहाबाद में 3 सितम्बर की बजाय अब 10 सितम्बर को मुक्ति दिवस सम्मेलन आयोजित किया जाएगा, जिसमें मुख्यमंत्री मनोहर लाल एवं उनके मंत्रिमंडल सदस्य शिरकत करेंगे। सम्मेलन का आयोजन डीएनटी कल्याण संघ के बैनर के नीचे किया जाएगा। आज विभिन्न समाज के लोगों से चर्चा करते हुए राजीव जैन ने बताया कि समाज को मुख्यधारा में लाने में भारतीय जनता पार्टी द्वारा हरसंभव कदम उठाए जा रहे हैं, जो समाज के युवाओं को सामाजिक, आर्थिक और शैक्षणिक मंच पर उत्थान में अहम योगदान देंगे। उन्होंने कहा कि सम्मेलन को कामयाब बनाने के लिए समाज की 30 बिरादरियों की जिलावार टोलियां गठित की गई हैं। यह टोलियां जिला में अपनी बिरादरी बहुल क्षेत्र में जाकर समाज के लोगों को इस ऐतिहासिक पल का साक्षी बनने के लिए आमंत्रित करेंगी। उन्होंने बताया कि इसके अतिरिक्त समाज के बड़े नेताओं की जिला प्रभारी के तौर पर ड्यूटियां लगाई गई हैं। जो सम्मेलन के लिए समाज के लोगों का फतेहाबाद पहुंचना सुनिश्चित करेंगे। उन्होंने कहा कि समाज में अपनी पहचान को जिंदा रखने के लिए संघर्षरत विमुक्त जातियों के सामाजिक, आर्थिक और शैक्षिक उत्थान को ध्यान में रखते हुए मुख्यमंत्री मनोहर लाल द्वारा वर्ष 2015 में पानीपत में हुए सम्मेलन में विमुक्त घुमन्तु विकास बोर्ड का गठन करने तथा सलाहकार समिति के माध्यम से सर्वे और व्यवहारिक आंकलन करते हुए सुझाव देने के निर्देश दिए थे। वहीं कुछ समय पूर्व ही उन्होंने समाज के लोगों के साथ मिलकर मुख्यमंत्री मनोहर लाल से मुलाकात की थी और समाज के उत्थान के लिए सिफारिशें सौंपी थी। जिसपर मुख्यमंत्री मनोहर लाल द्वारा उचित कदम उठाने का भरोसा दिलाया गया था।